केंद्र सरकार का बड़ा फैसला,दिल्ली राज्य के इस जिले को छोड़कर पूरे देश में नहीं होंगे 10वीं बोर्ड परीक्षा

0
48

नईदिल्ली । देश में कोरोना वायरस का कहर जारी है। कोविड-19 के कारण देश में दसवीं और बारहवीं की परीक्षा स्थगित कर दी गई है। ऐसे में अभिभावक और बच्चों के मन में परीक्षा की तारीखों को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। इन परीक्षाओं को दोबारा से कराने के लिए सभी राज्य की सरकारें और केंद्र सरकार प्रयास कर रही हैं। लेकिन बार-बार लॉक डाउन बढ़ने के कारण यह संभव नहीं हो पा रहा है। इसी बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर दसवीं क्लास की परीक्षा के बारे में एक बड़ी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के नॉर्थ ईस्ट जिले के अलावा देश में कहीं भी सीबीएसई की दसवीं बोर्ड की परीक्षा नहीं होगी। उन्होंने कहा कि देश में कहीं भी दसवीं की परीक्षा नहीं होगी, सिर्फ नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के छात्रों के लिए छूटी हुई परीक्षा आयोजि‍त की जाएगी।

Advertisements

ट्वीट में एमएचआरडी मंत्री ने कहा है कि परीक्षाओं से पहले छात्रों को तैयारी के लिए दस दिन का वक्त दिया जाएगा। उन्होंने कहा ये परीक्षाएं उन छात्रों के लिये आयोजित की जा रही है जो कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के कारण निर्धारित कार्यक्रम के दौरान परीक्षा नहीं दे पाए थे। नए कार्यक्रम की घोषणा एक-दो दिनों में की जाएगी। गौरतलब है कि कोविड-19 के कारण पूरे देश के स्कूल, विश्वविद्यालय 16 मार्च से बंद हैं और परीक्षाएं टाल दी गई है। इसके बाद 24 मार्च को देशव्यापी लॉक डाउन की घोषणा की गई और इसे बढ़ाकर 17 मई तक कर दिया गया है। सीबीएसई बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमने पहले ही अप्रैल में घोषणा की थी कि 10वीं और 12वीं बोर्ड की लंबित 29 महत्वपूर्ण विषयों की परीक्षाएं ही ली जायेंगी, लेकिन 10वीं कक्षा में केवल वैकल्पिक विषयों की परीक्षाएं ही ली जानी शेष थी और इनका आयोजन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के कारण उत्तर पूर्व दिल्ली में कुछ महत्वपूर्ण विषयों की परीक्षा टाल दी गई थी और इनका यहां आयोजन किया जाएगा।

पत्रकार प्रशांत ईलमकर-