नारायणपुर : कलेक्टर की अध्यक्षता में समय सीमा की बैठकलोग कोरोना नियंत्रण हेतु शासन द्वारा जारी गाइड लाईन का करें पालन-कलेक्टर…

0
17

नारायणपुर- 6 अप्रैल 2021- कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू ने आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में कोरोना प्रोटाकाल का पालन करते हुए समय सीमा के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। बैठक में उन्होंने जिले में 45 वर्ष से अधिक उम्र और सरकारी कर्मचारियों के किये गये टीकाकरण, कोविड-19 वैक्सीन की जिले में उपलब्धता की जानकारी ली और अधिकारियों को निर्देशित किया कि लोगों को कोरोना का टीका लगवाने के लिए प्रचार-प्रसार की व्यवस्था सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के माध्यम से लोगों को प्रोत्साहित करें।

Advertisements

कलेक्टर श्री साहू ने कहा कि प्रदेश की राजधानी रायपुर सहित कुछ जिलो में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। इसलिए जरूरी है कि लोग शासन द्वारा पूर्व में जारी गाइड लाईन पालन करें। उन्होंने कहा कि पॉजिटिव पाये गये व्यक्तियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग गंभीरता से करें। इसके साथ ही कोराना जांच के लक्ष्य पूरा करें। कलेक्टर ने कहा कि समय सीमा में उन पत्रों को समावेशित किया जाता है, जो महत्वपूर्ण होते हैं, या जिनका जवाब शासन स्तर पर देना होता है। अधिकारी समय सीमा के प्रकरणों का निराकरण एक सप्ताह के भीतर करना सुनिश्चित करें।

बैठक में एसडीएम दिनेश कुमार नाग, संयुक्त कलेक्टर सुश्री निधि साहू, डिप्टी कलेक्टर गौरीशंकर नाग, वैभव क्षेत्रज्ञ, फागेश सिन्हा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.आर.गोटा, उपसंचालक बीएस बघेल, डीईओ जीआर मंडावी के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर श्री साहू ने बैठक में अधिकारियों से जिले के ग्रामीण एवं अंदरूनी ईलाकों में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हेतु जल जीवन मिशन अंतर्गत किये गये कार्यों की विस्तृत जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि ओरछा विकासखंड के गांवांे जोड़ने हेतु मनरेगा के तहत् सड़क निर्माण कार्यों को प्राथमिकता से करें।

इसके साथ ही इस क्षेत्र में डबरी निर्माण, तालाब निर्माण, कुंआ निर्माण और भूमि समतलीकरण जैसे रोजगारमूलक कार्यों हेतु प्रस्ताव शीघ्र तैयार कर प्रस्तुत करें। उन्होंने मनरेगा के अंतर्गत काम करने वाले श्रमिकों के मजदूरी भुगतान की जानकारी ली, अधिकारियों ने बताया कि जिले में मनरेगा में काम करने वाले श्रमिकों को माह जनवरी तक मजदूरी का भुगतान किया जा चुका है। राज्य शासन से राशि प्राप्त होने पर शीघ्र ही वर्तमान तक मजदूरी का भुगतान कर दिया जायेगा।