राजनाँदगाँव : मंहगाई पर भाजपा की चुप्पी अंध भक्ति का पर्याय-ऋषि शास्त्री…

0
16

भाजपा को जनता की चिंता नही बल्कि सत्ता का अंहकार

Advertisements

छत्तीसगढ़ में भाजपा को छाती पीटने के बजाए छत्तीसगढ़ सरकार की कार्यप्रणाली अपनाने केंद्र को देना होगा सुझाव

राजनाँदगाँव:-नगर निगम राजनाँदगाँव के काँग्रेस पार्षद दल प्रवक्ता ऋषि शास्त्री ने मंहगाई को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए अपना बयान जारी किया है कि केंद्र में भाजपा की सरकार जो एक ओर करोड़ो किसानों से सौतेला व्यवहार कर मनमानी करने में आमदा है वही दूसरी ओर जहाँ पूरा देश मंहगाई में डूबा हुआ है हर वर्ग के लोग मंहगाई से हताश परेशान है पर भाजपा को सत्ता का अहंकार इतना ज्यादा है की मानो केंद्र सरकार ने आखों में पट्टी बांध ली हो,जबकि वर्तमान में केंद्र सरकार को किसान की तपस्या और महंगाई की बढ़ती ताप को देखते हुए आँखों मे बंधी पट्टी को निकाल कर जनता की चिंता करनी चाहिए।


जब केंद्र में भाजपा की सरकार नही थी तब महंगाई को डायन का रूप बता कर सड़कों पर उतर भाजपा ने खूब दिखावे की राजनीति की और अब जब मंहगाई दो गुनी बढ़ रही है तब भाजपा के लोग बिल में क्यों छुपे बैठे है?

देश के अन्नदाताओं ने केंद्र की गलत नीति के खिलाफ आंदोलन छेड़ा है जहां करोड़ो किसानों की मांगों को दरकिनार करते दिखाई दे रही भाजपा देश के अन्नदाताओं का भी अपमान कर रही है।


वर्तमान में जहाँ छत्तीसगढ़ सरकार के उत्कृष्ट कार्य जैसे जनता के जेब से पैसे बचाने मंहगाई से लड़ने बिजली बिल हाफ किया किसानों का कर्जा माफ किया दो पैसे जनता के जेब मे बच पाए और मुनाफा हो जिसके लिए कई योजनाएं तैयार कर जनता को राहत दिलाई जिसका महत्वपूर्ण छोटा उदाहरण यह है कि पूरे विश्व मे छत्तीसगढ़ ही एक ऐसा प्रदेश है जहां मजदूर किसान गौ धन न्याय योजना अंतर्गत गोबर विक्रय कर अपनी धर्मपत्नी के लिए मंगलसूत्र खरीद पाया है,केंद्र की सरकार दो व्यक्तियों को फायदा पहुचाने गरीब की जमीन छीन करी है वही गरीब जनता को उनके जमीन का अधिकार दिलाने छत्तीसगढ़ सरकार उन्हें पट्टा और मालिकाना हक दिला रही है।

छत्तीसगढ़ में भाजपा के पास बेबुनियाद मामलों में राघ लापने की राजनीति करने के अलावा कोई विशेष मुद्दा नही है भाजपा के लोगो को छत्तीसगढ़ सरकार की कार्यप्रणाली एवं उपलब्धि को अपनाने केंद्र सरकार को सुझाव देना चाहिए।