राजनांदगांवः एक साल बाद सुलझी अंधे कत्ल की गुत्थी दो आरोपियों की हुई गिरफ्तारी…

0
23

राजनांदगांव- अपने साथी का गला घोटकर मारने के बाद उसे आत्महत्या का रूप देते हुए सड़क किनारे पेड़ पर लटका कर फांसी देने वाले दो आरोपी अंततः पुलिस के हत्थे चढ़ गये।

Advertisements

घटना 1 वर्ष पूर्व वनांचल मानपुर के ग्राम तुमड़ीकसा की बताई जाती है पुलिस ने आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

पुलिस विभाग द्वारा मिली जानकारी के अनुसार 19 अक्टूबर 2019 को मानपुर थाना क्षेत्र के ग्राम तुमड़ीकसा में मेन रोड के किनारे एक पेड़ पर युवक फांसी की स्थिति में पाया गया था।

पुलिस ने पंचनामा रिपोर्ट तैयार कर मृतक की पहचान भागवत गिरी के रूप में की थी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि मृतक के गले में रस्सी कसकर गला घोटा गया है पुलिस आरोपी की तलाश में विवेचना कर रही थी पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर संदेही ईश्वर कोलियारा एवं जनक लाल करायत दोनों निवासी कटेगा थाना देवरी जिला बालोद को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की आरोपियों ने पुलिस को बताया कि घटना दिनांक को रात 2:00 से 2:30 के बीच शराब के नशे में रुपयों के लेन-देन को लेकर विवाद शुरू हुआ था इसी दौरान दोनों ने मिलकर रस्सी से भागवत का गला घोट दिया और घटना को आत्महत्या का रूप देने के लिए पेड़ पर लटका दिया गया बताया गया कि मृतक के मोबाइल को ग्राम जबकसा के पास नाले में फेंक दिया तथा ₹5000 भी लूट ले लिए गए पुलिस ने दोनों को भादवि की धारा 302, 392, 34 के तहत जेल भेज दिया।