राजनांदगांव : चूल्हा जलाकर मंहगाई के खिलाफ महिला कांग्रेस ने किया प्रदर्शन…

0
11

राजनांदगांव : महिला कांग्रेस द्वारा डीजल-पेट्रोल व रसोई गैस के बढ़े दामों और तीन कृषि कानून के खिलाफ सोमवार को कलेक्टोरेट के सामने चूल्हा जलाकर प्रदर्शन किया गया। महिला कांग्रेस के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध जताया।

Advertisements

महापौर हेमा देशमुख ने कहा कि गैस इतनी मंहगी हो चुकी है कि अब चूल्हे से ही काम चलाना होगा। कोरोना काल में ऐसे ही आमजन परेशान हैं और आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं, इसके बावजूद लगातार पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस के दामों में वृद्धि की जा रही है, जिससे घरों का बजट बिगड़ रहा है।

सभी सामानों के दाम भी बढ़ रहे हैं। महिलाओं का कहना था कि जब से केंद्र में भाजपा की सरकार बैठी है तब से महंगाई अपने चरम सीमा में पहुंच चुकी है। आम जनता का सरकार के उपर से भरोसा उठ चुका है। गरीबों की ओर ध्यान नहीं है।

महिलाओं ने किया प्रतीकात्मक भोजन तैयार

तीन कृषि कानून सहित डीजल-पेट्रोल और रसोई गैस एवं महंगाई के मुद्दे को लेकर कलेक्टोरेट कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन करते हुए महिलाओं ने चूल्हा जलाकर प्रतीकात्मक भोजन तैयार किया।

वहीं उन्होंने अपने प्रदर्शन के दौरान कहा कि उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को गैस सिलेंडर तो दे दिया गया है, लेकिन उसकी रिफिलिंग कराने में परिवार गैस के बढ़े दामों की वजह से सक्षम नहीं है। ऐसे में वापस महिलाओं को चूल्हे में भोजन बनाने मजबूर होना पड़ रहा है।

धरना-प्रदर्शन के बाद महिलाओं ने अपर कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर महंगाई से राहत दिलाने की मांग की है।

SOURCE : naidunia.com