राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग रायपुर की अध्यक्ष तेजकुंवर नेताम ने शासकीय बालक संप्रेक्षण गृह राजनांदगांव का किया निरीक्षण…

व्यवस्था की ली जानकारी

Advertisements

अच्छी शिक्षा प्राप्त कर अच्छे गुणों को आत्मसात करने की दी नसीहत

राजनांदगांव – छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग रायपुर की अध्यक्ष श्रीमती तेजकुंवर नेताम ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बच्चों के संरक्षण एवं कल्याण के क्षेत्र में संचालित एकीकृत बाल संरक्षण योजना अन्तर्गत शासकीय बालक संप्रेक्षण गृह राजनांदगांव का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने संप्रेक्षण गृह में रह रहे बालकों से मुलाकात कर गृह की व्यवस्था की जानकारी ली गई। जिसमें बालकों ने बताया कि गृह में कार्यरत अधिकारी-कर्मचारियों के द्वारा उन्हें अच्छे से रखा जा रहा है। उनकी शिक्षा व्यवस्था हेतु शिक्षा विभाग द्वारा 3 शिक्षक उपलब्ध कराया गया है। शिक्षकों के द्वारा गृह परिसर में पढ़ाया जाता है। विगत शैक्षणिक वर्ष में कुल 5 बालक कक्षा दसवीं की परीक्षा में सम्मलित हुए। जिसमें सभी बालकों का परीक्षा परिणाम 85 प्रतिशत से अधिक रहा।

बच्चों को भोजन मेन्यू आहार तालिका के अनुरूप पर्याप्त मात्रा में प्रदाय किया जा रहा है। महिला एवं बाल विकास विभाग रायपुर द्वारा तैयार शनिवार गतिविधि में सभी बच्चे उत्साहपूर्वक शामिल होते हैैं।छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती तेजकुवंर नेताम द्वारा गृह में रह रहे बच्चों के द्वारा तैयार पेंटिग तथा विविध सामाग्रियों का अवलोकन कर बालकों को बधाई दी गई। बच्चों के द्वारा देश भक्ति गीत वाद्ययंत्रों के वादन के साथ प्रस्तुत किया गया। श्रीमती नेताम के द्वारा बालकों को गृह में शांतिपूर्ण ढंग से गृह में रहने तथा संप्रेक्षण गृह से वापस घर जाने पर अच्छे से रहने तथा दोबारा किसी प्रकार की गलितयां नहीं दोहराने तथा अपने माता-पिता एवं शिक्षकों से अच्छी शिक्षा प्राप्त कर अच्छे गुणों को आत्मसात करने की नसीहत दी गई। इसके अलावा गृह के कर्मचारियों को निर्देशित किया गया कि बालकों की निगरानी एवं देखरेख किशोर न्याय अधिनियम एवं नियमों का गंभीरता से पालन करते हुए किया जाए।

छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष द्वारा शासकीय बालक संप्रेक्षण गृह के अवलोकन तथा बच्चों के संरक्षण हेतु दिए गए सुझावों के लिए जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती रेणु प्रकाश ने धन्यवाद ज्ञापित किया गया। जिला बाल संरक्षण अधिकारी श्री चन्द्रकिशोर लाड़े बाल देखरेख संस्थाओं में उत्तम व्यवस्था बच्चों के अनुरूप बनाये रखने का विश्वास दिलाया।निरीक्षण के दौरान भूतपूर्व विधायक श्री गोवर्धन नेताम, परियोजना अधिकारी सह अधीक्षक शासकीय बालक संप्रेक्षण गृह सुश्री रीना ठाकुर, संरक्षण अधिकारी श्री किशन देवागंन, संस्थागत देखरेख, श्री सरजू कोहली परिवीक्षा अधिकारी तथा गृह के समस्त कर्मचारी उपस्थित रहे।