राजनांदगांव : निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें – कलेक्टर…

जिला खनिज न्यास निधि अंतर्गत निर्माण कार्यों की समीक्षा

Advertisements

  • निर्माण कार्यों को गुणवत्ता के साथ निर्धारित समयावधि में पूर्ण करने के निर्देश

राजनांदगांव – कलेक्टर श्री डोमन सिंह ने आज जिला खनिज न्यास निधि अंतर्गत स्वीकृत निर्माण कार्यों की समीक्षा की। बैठक में विभिन्न योजनाओं और विभागों में कराए जा रहे निर्माण कार्यों की अद्यतन स्थिति की जानकारी लेकर उन्होंने निर्माण एजेंसियों को सभी स्वीकृत कार्यों को निर्धारित समयावधि में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि निर्माण कार्यों की महत्ता और आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए स्वीकृत किया गया है।

निर्माण कार्यों को समय पर पूर्ण होने पर जिस प्रायोजन और उद्देश्य के लिए इसे स्वीकृत किया गया है उसकी प्रतिपूर्ति की दिशा में सार्थक साबित होगा। उन्होंने कहा कि लेटलतीफी होने से कार्य की गुणवत्ता में प्रभाव पडऩे के साथ ही उसके मूल उद्देश्यों और आवश्यकता की पूर्ति करने में भी समस्या उत्पन्न होती है। ग्रामीण यांत्रिकी सेवा निर्माण एजेंसी द्वारा स्वीकृत निर्माण कार्यों में विलंब करने पर कलेक्टर ने गहरी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अपने कार्य में गति लाएं और निर्माण कार्यों को शीघ्र पूर्ण करें। बैठक में कलेक्टर ने जिला खनिज न्यास निधि अंतर्गत स्वीकृत निर्माण कार्यों, पूर्ण निर्माण कार्य प्रगतिरत निर्माण कार्य एवं अप्रारंभ कार्य के आधार पर अलग-अलग समीक्षा की।


उल्लेखनीय है कि जिले में जिला खनिज न्यास निधि अंतर्गत कई तरह के महत्वपूर्ण और आवश्यकता वाले निर्माण कार्य स्वीकृत किए गए हैं। शिक्षा विभाग, महिला बाल विकास विभाग छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विस कॉरपोरेशन, लोक निर्माण विभाग लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के साथ ही अन्य विभागों के लिए निर्माण कार्य स्वीकृत किए गए हैं।

कलेक्टर ने बैठक में स्पष्ट रूप से निर्देशित करते हुए कहा कि जिन निर्माण कार्यों को समय पर पूर्ण कर लिया गया है उनका एनओसी प्रस्तुत करें। जिसके आधार पर अंतिम भुगतान किया जा सके। इसी प्रकार उन्होंने कहा कि जिन निर्माण कार्यों के लिए पूर्व में स्वीकृति दी गई थी जिसे विशेष कारण के चलते निरस्त कर दिया गया है। ऐसे निर्माण कार्यों के लिए स्वीकृत राशि को शीघ्र ही संबंधित एजेंसी से वापस लेने की कार्यवाही सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर ने मां बम्लेश्वरी मंदिर डोंगरगढ़ में छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक कला और परंपरा के साथ ही राज्य के व्यंजनों को बढ़ावा देने के लिए गढ़कलेवा खोले जाने की स्वीकृति दी है ।

इसके लिए उन्होंने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा निर्माण एजेंसी को प्रस्तावना प्रस्तुत करने निर्देशित किया है। यहां सी मार्ट भी स्वीकृत किया गया है। जिसका शीघ्र ही शुभारंभ किया जाएगा। इसके लिए उन्होंने निर्माण एजेंसी को शीघ्र ही पूर्ण कार्यवाही करने कहा है। बैठक में कलेक्टर ने सभी निर्माण एजेंसियों को अंतिम अवसर देते हुए कहा कि स्वीकृत निर्माण कार्यों में विलंब करने अथवा कोताही बरतने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री गजेन्द्र सिंह ठाकुर, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती इंदिरा देवहारी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।