राजनांदगांव : बजट में केंद्र सरकार ने गरीबों के लिए रोजगार और मुफ्त इलाज का रखा ध्यान…

0
9

राजनांदगांव। भाजपा द्वारा उदयाचल भवन में केंद्रीय बजट पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी को भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया। स्वागत भाषण में प्रथम वक्ता पूर्व सांसद मधुसूदन यादव ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा कोरोना महामारी में किए गए बजट का स्वागत किया।

Advertisements

राजनांदगांव। भाजपा द्वारा उदयाचल भवन में केंद्रीय बजट पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी को भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया। स्वागत भाषण में प्रथम वक्ता पूर्व सांसद मधुसूदन यादव ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा कोरोना महामारी में किए गए बजट का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि दूरगामी सोच, रोजगार मूलक बजट, समावेशी बजट, देश की प्रगति की बजट, आत्मनिर्भर भारत की बढ़ते कदम की बजट है।

द्वितीय वक्ता पारस छाजेड़ ने कहा कि विषम परिस्थितियों में बनाया गया कर संबंधी जटिलताएं की ओर ध्यान आकर्षित बजट में किया गया। फेसलेट पेनाल्टी आ गई है। दिशा ठीक है, दशा अच्छी नहीं है। तृतीय वक्ता सेल्स बार काउंसिलिंग अध्यक्ष सुरेश एचलाल ने हिंदुस्तान के इतिहास में सबसे बड़ा बजट बताया। प्रणव मुखर्जी ने 2010 में अपने बजट में कहा था कि हिंदुस्तान को गर्व है 10 लाख करोड़ की बजट लाए हैं। अगर इनकी तुलना की जाए तो प्रधानमंत्री मोदी विषम परिस्थितियों में भी 35 लाख करोड़ की बजट अवधारणा रखे हैं।

छह स्तंभों का बजट

सांसद संतोष पांडेय ने छह स्तंभों का बजट बताया। उन्होंने कहा कि बजट में स्वास्थ्य एवं खुशहाली, भौतिक, वित्तीय पूंजी, आकांक्षी भारत के लिए समावेशी विकास, मानव पूंजी को ऊर्जावान बनाना, नवाचार अनुसंधान शोध, न्यूनतम सरकारी हस्तक्षेप शामिल हैं। भारत माला योजना अंतर्गत छत्तीसगढ़ में तीन राजमार्ग इस बजट में शामिल किए गए हैं जो 20 हजार करोड़ रुपये से बनेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना 2022 तक पक्का मकान 27 हजार 500 करोड़, एक लाख 72 हजार करोड़ धान खरीदी भुगतान, उज्ज्वला योजना में एक करोड़ नए गैस कनेक्शन दिए जाएंगे।

अनुसूचित जनजाति 750 एकल आवासीय विद्यालय, जन आरोग्य के तहत पांच लाख का मुफ्त इलाज, एक राष्ट्र एक राशन की सुविधा मिलेगी। लेकिन छत्तीसगढ़ की सरकार राजनीतिक दुराग्रह से योजनाओं का ठीक ढंग से क्रियान्वयन नहीं कर रही है। इस दौरान वरिष्ठ भाजपा नेता लीलाराम भोजवानी, सचिन बघेल, प्रदीप गांधी, नीलू शर्मा, संतोष अग्रवाल, कोमल जंघेल, कोमल सिंह राजपूत, रमेश पटेल, सरोजिनी बंजारे, उत्तम गीड़िया, आभा तिवारी, मणि भास्कर गुप्ता, पारुल जैन, रघुवीर वाधवा, मधु बैद, आकाश चोपड़ा ,सुरेश खंडेलवाल, नरेश बैद पतली, बालचंद भंसाली व अन्य मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन शरद श्रीवास्तव व आभार प्रदर्शन सचिन बघेल ने किया।

SOURCE : naidunia.com