राजनांदगांव : बीइओ को हटाने को भूख हड़ताल पर बैठे 463 सहायक शिक्षक…

0
7

अंबागढ़ चौकी। विकासखंड शिक्षा अधिकारी एआर देवांगन के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर शिक्षक लामबंद हो गए हैं। सोमवार को शिक्षकों ने बस स्टैंड में भूख हड़ताल कर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। क्रमिक भूखहड़ताल में प्रतिदिन संकुल के एक-एक शिक्षक अपनी उपस्थति दर्ज कराएंगे।

Advertisements

अंबागढ़ चौकी। विकासखंड शिक्षा अधिकारी एआर देवांगन के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर शिक्षक लामबंद हो गए हैं। सोमवार को शिक्षकों ने बस स्टैंड में भूख हड़ताल कर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। क्रमिक भूखहड़ताल में प्रतिदिन संकुल के एक-एक शिक्षक अपनी उपस्थति दर्ज कराएंगे। इधर, शिक्षकों के हड़ताल में जाने के बाद मोहल्ला क्लास प्रभावित होने की संभावना बढ़ गई है।

हड़तालियों ने सोमवार को ब्लाक मुख्यालय में बीइओ को हटाने की मांग को लेकर शासन व प्रशान के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। ब्लाक में पिछले आठ वर्षों से बीइओ के रूप में कार्यरत एआर देवांगन के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर छग सहायक शिक्षक फेडरेशन से जुड़े 463 सहायक शिक्षक छुट्टी लेकर सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। आंदोलनकारी सहायक शिक्षकों ने नगर के बस स्टैंड में सुबह 11 से शाम पांच बजे तक बीइओ के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे रहे।

विभागीय अधिकारी कार्रवाई करने से बच रहे

फेडरेशन के पदाधिकारियों ने प्रातांध्यक्ष मनीष मिश्रा की अगुवाई में शासन व प्रशासन के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रातांध्यक्ष मनीष मिश्रा ने बताया कि पिछले कई महीनों से निरंतर बीइओ के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों एवं प्रशासन से जुड़े वरिष्ठ अफसरों को ज्ञापन सौंप रहे हैं, लेकिन उनकी मांगों पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

बीइओ के खिलाफ जांच के लिए डीईओ द्वारा बनाई गई तीन सदस्यीय जांच कमेटी में शिकायतों व आरोपों की पुष्टि होने के बाद भी बीइओ के खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं करना संदेहों को जन्म देता है। फेडरेशेन ने कहा कि शासन व प्रशासन को तीन महीने से अधिक का समय दिया, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। मजबूरी में सड़क पर आना पड़ा।

सहायक शिक्षक मनीष मिश्रा, लीलाधर देवांगन, द्वारका साहू, कुलदीप कुर्रे, शेख निलोफर, ममता साहू, रूखसाना खातुन, ममता बघेल, दयाराम बाखमारे, रामकृष्ण ध्रुवे, ओमप्रकाश कोडापे, सुनील कोमरे, फलेश्वर साहू, डुप्ले सिंह कौशिक ने भूख हड़ताल कर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

SOURCE naidunia.com