राजनांदगांव : मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप जिले में चिटफण्ड कंपनी के खिलाफ लगातार कार्रवाई करते हुए निवेशकों को उनकी राशि दिलाई जा रही वापस…

  • सहारा इंडिया के 1772 निवेशकों को भुगतान के लिए 2 करोड़ 30 लाख 83 हजार 658 रूपए का चेक जारी
  • 4 हजार 614 निवेशकों के आवेदन व जमा राशि का कराया जा रहा सत्यापन
  • शीघ्र ही शेष निवेशकों को किया जाएगा भुगतान
  • जिला प्रशासन द्वारा अब तक 23 हजार 999 निवेशकों को कुल 15 करोड़ 86 लाख रूपए का कराया गया भुगतान

राजनांदगांव – मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप जिले में चिटफण्ड कंपनी के खिलाफ लगातार कार्रवाई करते हुए निवेशकों को उनकी राशि वापस दिलाई जा रही है। कलेक्टर श्री डोमन सिंह के मार्गदर्शन में सहारा इंडिया कंपनी अंतर्गत सहारियान इ-मल्टीपरपस सोसायटी लिमिटेड, सहारा क्यूशॉप यूनिक प्रोटक्ट रेंज लिमिटेड तथा सहारा क्रेडिट कोआपरेटिस सोसायटी के निवेशकों से प्राप्त आवेदनों का सत्यापन सहारा इंडिया कंपनी द्वारा कराया गया।

Advertisements

कलेक्टर श्री सिंह निवेशकों की राशि वापस दिलाने के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं। वर्तमान में कुल 1 हजार 772 निवेशकों के आवेदन का सत्यापन कार्य पूर्ण हो चुका है। जिन्हें निवेशकों के निवेश राशि का 25 प्रतिशत कुल 2 करोड़ 30 लाख 83 हजार 658 रूपए भुगतान के लिए संबंधित तहसीलों को चेक जारी किया गया।

जिसके अंतर्गत राजनांदगांव तहसील के 1 हजार 42 निवेशकों को 1 करोड़ 85 लाख 74 हजार 868 रूपए, छुरिया तहसील के 312 निवेशकों को 17 लाख 63 हजार 144 रूपए, डोंगरगढ़ तहसील के 383 निवेशकों को 25 लाख 67 हजार 134 तथा छुईखदान तहसील के 35 निवेशकों को 1 लाख 78 हजार 513 रूपए का चेक संबंधित तहसीलदारों को जारी किया गया है। तहसीलदारों को निवेशकों की राशि का अंतरण सीधे उनके बैंक खाते में कराने के लिए निर्देशित किया गया है।


अपर कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी श्री सीएल मारकण्डेय ने बताया कि सहारा इंडिया कंपनी के 4 हजार 614 निवेशकों के आवेदन व जमा राशि का सत्यापन राजस्व विभाग एवं सहारा इंडिया कंपनी से कराया जा रहा है। सत्यापन के बाद शीघ्र ही शेष निवेशकों को भुगतान किया जाएगा। जिला कलेक्टर राजनांदगांव के खाते में सहारा इंडिया कंपनी द्वारा कुल 7 करोड़ रूपए की राशि उपलब्ध कराई गई है।

जिला प्रशासन राजनांदगांव द्वारा विभिन्न चिटफण्ड कंपनी जैसे- याल्स्को रियल स्टेट लिमिटेड, शुभ सांई देवकान लिमिटेड, एव्हीएम रियल स्टेट एण्ड एलाईड लिमिटेड, अनमोल इंडिया लिमिटेड, सहारा इंडिया आदि के 23 हजार 999 निवेशकों को कुल 15 करोड़ 86 लाख रूपए का भुगतान किया जा चुका है।