राजनांदगांव : स्वास्थ्यकर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानीन, पुलिस विभाग के जवान वैक्सीन लगाने से हुए सुरक्षित : कलेक्टर….

0
22
  • वैक्सीनेशन से सुरक्षित होकर अपने कर्तव्यों का कर रहे निर्वहन
  • कोरोना से सुरक्षा के लिए वैक्सीनेशन जरूरी

डिस्ट्रिक वार रूम में कोविड-19 के संबंध में समीक्षा

Advertisements

राजनांदगांव – कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने आज दिग्विजय स्टेडियम स्थित डिस्ट्रिक वार रूम में कोविड-19 के संबंध में समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि स्वास्थ्यकर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानीन, पुलिस विभाग के जवानों ने वैक्सीन लगाया है, जिससे वे कोरोना के संक्रमण से सुरक्षित है और वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं। उनमें से बहुत ही कम लोग संक्रमित हुए हैं। जो लोग संक्रमित हुए है, उनमें गंभीर स्थिति उत्पन्न नहीं हुई और शीघ्र ही स्वस्थ हो गए। ऐसे व्यक्ति होम आईसोलेशन में रहकर भी स्वस्थ हो गए।

उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन लगाने वाले संक्रमण से सुरक्षित हो रहे हैं। आंगनबाड़ी और मितानिन की टीम घर-घर जाकर कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए पे्ररित कर रही हैं। उन्होंने स्वयं वैक्सीन लगाया है और अन्य लोगों को भी वैैक्सीन लगाना चाहिए। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए 18 से 44 वर्ष के अंत्योदय कार्डधारियों का वैक्सीनेशन कराया जा रहा है। इस उम्र के सभी अंंत्योदय कार्डधारी हितग्राही अधिक से अधिक वैक्सीन लगाए।

जिन लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है, मितानीन और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उनके संपर्क में रहे तथा उनसे बात करके उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहे।
कलेक्टर वर्मा ने कोविड हॉस्पिटलों तथा कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण मरीजों की संख्या में कमी आई है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के रिकवरी दर में भी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि ऐसे मरीज जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं है और ठीक हो गए है तथा होम आइसोलेशन समाप्त हो गया हंै, उनका डिस्चार्ज में ऑनलाईन एन्ट्री करें।

जिससे प्रतिदिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या की जानकारी मिल सके। बैठक में जिला पंचायत सीईओ अजीत वसंत, अपर कलेक्टर सीएल मारकण्डेय, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे, डिप्टी कलेक्टर विरेन्द्र सिंह, डिप्टी कलेक्टर राहुल रजक, डीपीएम गिरीश कुर्रे, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग रेणु प्रकाश, जिला शिक्षा अधिकारी एचआर सोम, शासकीय मेडिकल कालेज के अरविंद चौधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।