शाम 6 बजे के बाद यदि कहीं भीड़ दिखे तो उन लोगों का होगा कोरोना टेस्ट, कलेक्टर ने ली इंसीडेंट कमांडरों और जोन आयुक्तों की बैठक….

0
35

55 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों की
कोरोना पाॅजिटिव रिपोर्ट आने पर उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट किया जायेगा

Advertisements

रायपुर 06 अप्रैल 2021/कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी डॉ एस भारतीदासन ने आज यहां कलेक्ट्रेट परिसर स्थित रेडक्रास के सभाकक्ष में कोविड 19 के नियंत्रण हेतु बनाए गए नोडल अधिकारियों, जोन आयुक्तों, इंसीडेंट कमांडरों और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली।

कलेक्टर ने जिले में अब तक बनाए गए सभी कंटेनमेंट जोन की जानकारी ली। उन्होंने जोन आयुक्त और इंसीडेंट कमांडर को वहां विजिट करने तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों को पेट्रोलिंग करने निर्देशित किया। उन्होंने कंटेनमेंट जोन में टेस्टिंग की स्थिति की भी जानकारी ली। उन्होंने निर्देशित किया कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी एंटीजन किट के साथ नगर निगम की गाड़ियों से कंटेनमेंट जोन में जाएंगे।

कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि टेस्ेिेंटग सेंटर में 55 से अधिक आयु वर्ग के लोगों का टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आए तो उनके लिए एंबुलेंस की व्यवस्था कर उन्हें हॉस्पिटल पहुंचाएं एवं एडमिट करें, जिससे उनका तत्काल, प्रभावी इलाज हो सके।

कलेक्टर ने जिले के सभी नागरिकों से मास्क का उपयोग, सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने, कोरोना अनुरूप व्यवहार करने और सेनेटाइजर का उपयोग करने की अपील की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि धारा 144 के तहत लगाये गये प्रतिबंध की सीमा शाम 6 बजे तक दुकानें बंद हो जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि शाम 6 बजे के बाद कहीं भीड़ में लोग देखें तो उनका आवश्यक रूप से कोरोना टेस्ट करें तथा पॉजिटिव आने की स्थिति में उनका इलाज भी सुनिश्चित कराएं।

कलेक्टर ने एक्टिव सर्विलांस के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाने भी निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन का सर्विलांस सुबह 7 से सुबह 10 बजे तक किया जा सकता है।

कलेक्टर ने होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों के घर क्रॉसस्टीकर एवं रिबन शत प्रतिशत लगाने कहा। उन्होंने ऐसे मरीजों को दवा घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करने को भी कहा। कलेक्टर ने कहा यदि आइसोलेशन में रहने वाले मरीज अगर बाहर घूमते पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ पुलिस में एफ आई आर दर्ज कराएं।

कलेक्टर ने जोन आयुक्तों को निर्देशित किया है कि प्रत्येक जोन में पांपलेट छपवा कर नागरिकों को वितरित करें, जिसमें कंटेनमेंट जोन बनाए जाने की स्थिति में होम डिलीवरी सहित अन्य सुविधाओं के लिए अधिकारी – कर्मचारियों के नंबर उपलब्ध हो ताकि कंटेनमेंट जोन के रहवासियों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो।

कलेक्टर ने जोन वार रैपिड रिस्पांस टीम के लिए नगर निगम आयुक्त से चर्चा करते हुए कहा कि रिस्पांस टीम में शहरी क्षेत्र के पटवारियों की भी ड्यूटी लगाई जा सकती है। कलेक्टर ने नया कोविड केयर सेंटर बनाने की तैयारी के संबंध में भी मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य पदाधिकारी से जानकारी ली।

इस अवसर पर नगर निगम रायपुर के आयुक्त श्री सौरभ कुमार, सहायक कलेक्टर अभिषेक सिंह, एडीएम श्री एन आर साहू, अपर कलेक्टर श्री बीसी साहू एवं श्रीमती पदमिनी भोई, सभी नोडल अधिकारी, इंसीडेंट कमांडर, जोन कमिश्नर, पुलिस , स्वास्थ्य विभाग तथा नगरीय निकाय एवं संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।