राजनांदगांव: युवाओ ने घुटनो के बल चलते हुए, विद्यार्थियों ने पूछा मुख्यमंत्री जी से सवाल- शराब चखना हुक्का बार खुल सकते है तो स्कूल कॉलेज क्यों नही…

0
30

राजनांदगांव- वैश्विक महामारी के 11 माह पूरे होने के बाद भी आज तक स्कूल कॉलेज को बंद रखा गया है जिसके विरोध में भाजपा शहर उपाध्यक्ष नागेश यदु के नेतृत्व में आज जिला कलेक्टर परिसर में अनोखा आंदोलन करते हुए युवाओ ने घुटनो के बल चलते हुए कलेक्ट्रेट के मुख्य गेट में काला रिबन बांधकर युवाओ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी से सवाल पूछा कि जब संस्कारधानी में शराब दुकान चखना सेंटर हुक्का बार खुल सकते है तो स्कूल कॉलेज क्यों नही ? आज छग प्रदेश दुर्भाग्य है कि शासन प्रशासन युवाओ को शिक्षा न देकर नशे की ओर धकेल रहा है ।

Advertisements

*स्कूल कॉलेज खोलने की मांग को लेकर चल रहा है लगातार आंदोलन*

जनवरी माह के प्रथम सफ्ताह से ही भाजपा , छात्र युवा मंच व विद्यार्थियों – पालको के द्वारा स्कूल कॉलेज शैक्षणिक संस्थानों को खोलने की मांग को लेकर लगातार आंदोलन किया जा रहा है , शैक्षणिक संस्थानों को खोलने की मांग को लेकर प्रति सोमवार को जिला कलेक्ट्रेट परिसर में विद्यार्थी पालक और युवा अनोखा प्रदर्शन कर शासन प्रशासन को विद्यार्थीयो के भविष्य के प्रति गंभीर होते हुए जल्द से जल्द स्कूल कॉलेज प्रारम्भ करे ।

आंदोलन में विद्यार्थी – पालको को जोड़ने अब शहर के चौक चौराहों में होगा प्रदर्शनभगवा वन्दन के प्रदेश प्रमुख लोकेश बारापात्रे ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी से प्रदेश की जनता जानना चाहती है कि पूरे प्रदेश में शराब दुकान चखना सेंटर कोरोना काल मे खुले रहे अब सरकार आंगनबाड़ी , कौशल विकास प्रशिक्षण को खोल रहे है तो शैक्षणिक संस्थानों को बन्द कर विद्यार्थीयो के जीवन मे अंधकार क्यों ला रहे है , सरकार की उदासनीता को जगाने लिए हम शहर के प्रमुख चौक चौराहों में आंदोलन कर मुख्यमंत्री जी से सवाल करेंगे कि स्कूल कॉलेज क्यों बन्द रखे है ।